लोकसभा चुनाव से पहले देश के 140 करोड़ लोगों के लिए आई बड़ी खुशखबरी,आटे से लेकर ये चीजें हुई बहुत ही सस्ती रेट सुनकर झूम उठोगे आप।

GST Update: इस समय की बड़ी खबर सामने आ रही है क्योंकि जीएसटी परिषद ने साफ भी कर दिया है कि कारोबार जगत के द्वारा किसी भी सहायक कंपनियों को दी गई गारंटी पर 18% तक की जीएसटी लगाई जाएगी हालांकि निर्देशक के कंपनी को व्यक्तिगत गारंटी देने पर भी कोई कर (TAX) नहीं लगेगा. इस पूरे मामले को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता और राज्य के समकक्षों वाली परिषद ने शीरे पर जीएसटी की दर पर 28% से घटकर 5% कर दिया है.

बैठक में मानव उपभोग के लिए शराब पर टैक्स लगाने का अधिकार भी राज्यों को सौंप दिया गया. ऐसे में मानव उपभोग के लिए एक्स्ट्रा न्यूट्रल अल्कोहल (ईएनए) को जीएसटी से छूट दी जाएगी, जबकि औद्योगिक उपयोग के लिए इस्तेमाल होने वाले ईएनए पर 18 फीसदी जीएसटी लगाया जाएगा.

मैं बजरंग बली का बहुत बड़ा भक्त हूं। मैं लूप लगाकर हर सुबह हनुमान चालीसा का पाठ सुनता हूं: क्रिकेटर ध्रुव जुरेल

GST Update: गुड़ पर जीएसटी घटाया गया

जीएसटी परिषद की 52वीं बैठक के बाद संवाददाताओं को जानकारी देते हुए सीतारमण ने कहा कि गुड़ पर जीएसटी कटौती से गन्ना किसानों को फायदा होगा और उनके बकाये का भुगतान तेजी से हो सकेगा. उन्होंने कहा है कि परिषद और हम सभी को लगता है कि इससे पशु आहार बनाने की लागत भी कम हो जायेगी, जो बड़ी बात होगी.

राजस्व सचिव संजय मल्होत्रा ने कहा कि परिषद ने निर्णय लिया है कि जब कोई निदेशक किसी कंपनी को कॉर्पोरेट गारंटी देता है, तो सेवा का मूल्य शून्य माना जाएगा और इसलिए उस पर कोई जीएसटी लागू नहीं होगा।

कॉरपोरेट गारंटी पर 18 फीसदी जीएसटी

उन्होंने आगे कहा, ‘जब कोई कंपनी अपनी सहायक कंपनी को कॉर्पोरेट गारंटी देती है, तो यह माना जाएगा कि सेवा का मूल्य कॉर्पोरेट गारंटी का एक प्रतिशत है। इसलिए कुल रकम के एक फीसदी पर 18 फीसदी जीएसटी लगेगा.

Airtel-JIO की बड़ी मुश्किल, BSNL ले आया 12 महीने तक कॉल और डाटा फ्री वाला जबरदस्त प्लान, लोग हो रहे हैं खुश

परिषद ने लेबल वाले मोटे अनाज के आटे पर पांच प्रतिशत कर लगाने का निर्णय लिया। आटे की पैकिंग और लेबलिंग कर बेचने पर जीएसटी लगेगा.

जिस आटे में कम से कम 70 प्रतिशत मोटा अनाज हो और खुला बेचा जाए तो उस पर शून्य प्रतिशत जीएसटी लगेगा, लेकिन पैक करके और लेबल लगाकर बेचने पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगा।

GST Update: जीएसटीएटी चेयरमैन की आयु सीमा बढ़ी

इसके अलावा जीएसटी अपीलीय न्यायाधिकरण (जीएसटीएटी) के अध्यक्ष और सदस्यों की अधिकतम आयु सीमा तय करने का भी निर्णय लिया गया। इसके तहत जीएसटीएटी चेयरमैन की अधिकतम आयु 70 वर्ष और सदस्यों की अधिकतम आयु 67 वर्ष होगी. पहले यह सीमा क्रमश: 67 वर्ष और 65 वर्ष थी।

About Khabar Bharat Tak 789 Articles
खबर भारत तक एक एंटरटेनमेंट की वेबसाइट है और इस वेबसाइट से मैं पिछले काफी समय से जुड़ा हुआ हूं. मुझे बॉलीवुड, मनोरंजन, ब्लॉग, टेक्निकल आदि आर्टिकल की नॉलेज है. मैं आपके सामने इन सभी कैटिगरी की जानकारी लेकर आता हूं ताकि आपको देश-विदेश में चल रही सभी गतिविधियों के बारे में पता चल सके.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*