अजब-गजब

श्वेता बच्चन पति निखिल नंदा के साथ क्यों नहीं रहती

Why Shweta Bachchan doesn't live with husband Nikhil Nanda

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन अपनी बेटी श्वेता बच्चन नंदा से कितना प्यार करते हैं ये किसी से छुपा नहीं है। हालांकि, श्वेता बच्चन भी अपने माता-पिता के लिए प्यार और देखभाल दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ती हैं। न केवल वह हर समय अपने परिवार के संपर्क में रहती है, बल्कि वह पिछले कई सालों से अपने पिता के घर रह रही है।

दरअसल, 23 ​​साल पहले जब अमिताभ बच्चन ने अपनी प्यारी बेटी की शादी एस्कॉर्ट्स ग्रुप के मौजूदा मैनेजिंग डायरेक्टर निखिल नंदा से की थी, तो ज्यादातर लोगों ने सोचा था कि श्वेता मुंबई छोड़कर दिल्ली में रहने लगेंगी।

ऐसा इसलिए क्योंकि उनके पति ज्यादातर दिल्ली में रहते हैं। हालांकि, दोनों बच्चे होने के बाद श्वेता मुंबई में अपने पिता के बंगले ‘जलसा’ में रहने लगीं।

इसी वजह से कई लोगों को लगने लगा था कि श्वेता बच्चन को ससुराल वालों का साथ नहीं मिलता, जिसके चलते वह अलग रह रही हैं। यह भी कहा जाता है कि श्वेता अपने पति से अलग होना चाहती हैं, लेकिन परिवार की प्रतिष्ठा के चलते वह अपने पति निखिल नंदा से तलाक नहीं ले रही हैं।

हालांकि अमिताभ बच्चन के पूरे परिवार का उनके दामाद के साथ कैसा रिश्ता है, ये वो ही अच्छे से जानते होंगे. लेकिन इन सबके बीच जो बात सामने आ रही है वो ये है कि श्वेता अपने परिवार के साथ सिर्फ इसलिए रहती हैं क्योंकि वह इस समय पूरी तरह से अपने करियर पर फोकस कर रही हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो श्वेता बच्चन अपने ससुराल से जरूर दूर रहती हैं, लेकिन उन्हें अपने पति से कोई दिक्कत नहीं है। दरअसल, श्वेता बच्चन और निखिल नंदा दोनों ही अलग-अलग प्रोफेशन से आते हैं, जिसके चलते यह कपल एक साथ स्पॉट नहीं होता है। श्वेता जहां एक लेखक-मॉडल और फैशन डिजाइनर होने के अलावा भारतीय समाचार चैनल सीएनएन आईबीएन में एक नागरिक पत्रकार रही हैं, वहीं निखिल प्रबंध संपादक हैं, जिन्होंने वर्ष 2018 में अपनी कंपनी से दोगुना मुनाफा कमाया।

श्वेता के पति के पास करोड़ों की संपत्ति और अरबों का कारोबार है। लेकिन इसके बावजूद वह अपने पति की कमाई पर निर्भर नहीं रहती। श्वेता ने न सिर्फ अपनी पहचान बनाई बल्कि कमाए हुए पैसों से अपने बच्चों का भी पालन-पोषण किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button