Breaking News

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करने जा रहे है ये बड़ा काम,ऐसा करने वाले वो देश के पहले राष्ट्रपति होंगे।

29 अगस्त धर्म की नगरी अयोध्या में ऐतिहासिक तिथि होगी। जब देश के राष्ट्राध्यक्ष रामनाथ कोविंद राम की नगरी अयोध्या पहुंचेंगे। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद देश के पहले राष्ट्रपति होंगे, जो अयोध्या में रामलला के दर्शन और पूजा करेंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के स्वागत के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ी तैयारी की है. जहां एक और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति ट्रेन से 11:30 बजे अयोध्या रेलवे स्टेशन पहुंचेंगे, उनका भव्य स्वागत किया जाएगा.

राष्ट्रपति करेंगे रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन

राष्ट्रपति दोपहर 12 बजे राम कथा पार्क पहुंचेंगे। रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन कहां करेंगे. रामायण कॉन्क्लेव का आयोजन उत्तर प्रदेश के 17 जिलों में किया जा रहा है। 29 अगस्त से 1 नवंबर तक राज्य के 17 जिलों में रामायण कॉन्क्लेव का आयोजन किया जाएगा. रामायण कॉन्क्लेव के माध्यम से रामायण, राम कथा, सद्भाव पर विद्वानों द्वारा व्याख्यान और लोक संगीत की प्रस्तुति होगी।

राष्ट्रपति राम कथा पार्क में दोपहर 12 बजे से 1 बजे तक करीब 1 घंटे तक रहेंगे. इस दौरान राष्ट्रपति पुस्तक का विमोचन करेंगे, रामायण का शबरी पाठ राष्ट्रपति के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा, मालिनी अवस्थी इसे पेश करेंगी, अयोध्या पर आधारित फिल्म पेश की जाएगी, राज्यपाल, मुख्यमंत्री और राष्ट्रपति करेंगे संबोधित . राष्ट्रपति 3 परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही राम कथा पार्क और यात्री निवास के बीच आपको अयोध्या के धार्मिक, पुरातन, रामलीला, मठ मंदिरों पर आधारित प्रदर्शनी भी देखने को मिलेगी।

राष्ट्रपति राम लला से मिलने वाले पहले राष्ट्राध्यक्ष

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद देश के पहले राष्ट्रपति होंगे जो रामलला के दर्शन करेंगे। राष्ट्रपति पहले दोपहर करीब 2 बजे हनुमानगढ़ी में हनुमान जी के दर्शन करेंगे, उनकी अनुमति लेंगे और फिर राम जन्मभूमि परिसर जाएंगे। जहां अस्थाई भवन में बैठे लोग रामलला के दर्शन और पूजा-अर्चना करेंगे. राष्ट्रपति राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण स्थल का भी दौरा करेंगे। हम उस स्थान को भी देखेंगे जहां राम मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर के पास बने वाटिका में भी पौधे रोपेंगे. उसके बाद राष्ट्रपति दोपहर करीब 3.40 बजे अयोध्या रेलवे स्टेशन लौटेंगे और सुबह 3:50 बजे अपनी राष्ट्रपति ट्रेन से लखनऊ के लिए रवाना होंगे. .

राष्ट्रपति के स्वागत के लिए सजाया जा रहा है अयोध्या

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 29 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अयोध्या आगमन को लेकर पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे अयोध्या को सजाने के निर्देश दिए हैं. रेलवे स्टेशन से लेकर राम कथा पार्क और राम कथा पार्क से लेकर राम जन्मभूमि परिसर तक अयोध्या को सजाया जा रहा है. पूरे इलाके को अलग-अलग रंगों से रंगा जा रहा है। जगह-जगह खूबसूरत रोशनी की व्यवस्था की जा रही है। इतना ही नहीं अयोध्या को रंग-बिरंगे फूलों से सजाया जाएगा। राम जन्मभूमि परिसर में दर्शन मार्ग पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए रेड कार्पेट बिछाया जा रहा है. जिसके जरिए राष्ट्रपति रामलला के मंदिर पहुंचेंगे।

सोशल मीडिया पर हो रही चर्चा

वही सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति के रामलला के दर्शन को लेकर विकास प्रीतम सिन्हा ने लिखा कि भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद अयोध्या में रामलला के दर्शन करेंगे, ऐसा करने वाले वे भारत के पहले राष्ट्रपति होंगे। यह सौभाग्य की बात है हम सबके लिए और शर्म की बात है उस सोच के लिए जिसमें भारत के राष्ट्रपति इफ्तार दावतें कर सकते थे सरकारी खर्चे पर, पर रामलला के दर्शन नहीं।

Check Also

Google ने दिया भारत की जनता को बड़ा तोहफ़ा, सबसे प्राचीन भाषा संस्कृत समेत भोजपुरी, और मैथली भाषा को गूगल ट्रांसलेट में शामिल किया।

जैसा की आप सबको मालूम है संस्कृत हमारी सभ्यता की सबसे पुरानी भाषा है और …

Leave a Reply

Your email address will not be published.