बॉलीवुड

10वी क्लास में जिस लड़की पर आया था पंकज त्रिपाठी का दिल, उसी ने बनाया था सुपर स्टार।

The girl on whom Pankaj Tripathi's heart came in the 10th class, she had made a superstar.

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में पंकज त्रिपाठी के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने लगभग दो दशक के मुंबई फिल्मी कैरियर में सफलता के साथ-साथ असफलता के भी कई पल को जिया है! पंकज त्रिपाठी का कहना है कि उनकी यात्रा अब लोगों को अपने सपने पर भरोसा करने और अपने जुनून का पालन करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं वहीं दमदार अभिनेता आज जिस मुकाम पर पहुंच गए हैं वहां पर पहुंचने के लिए उन्होंने काफी लंबा सफर भी तय किया है बिहार की गलियों से निकले पंख त्रिपाठी ने मुंबई में अपनी अलग पहचान बनाए हैं हालांकि उनके लिए यहां तक पहुंचना भी आसान नहीं था पंकज त्रिपाठी कहते हैं कि उनके संघर्ष की दुख भरी कहानी नहीं रही वह स्ट्रीट लाइट के नीचे बैठे और ना ही रेलवे स्टेशन पर हालांकि उन्हें एक छोटे से कमरे के घर में रहना पड़ता था लेकिन उनकी है यादें भी शानदार है!

वही पंकज त्रिपाठी के पास पैसे नहीं हुआ करते थे लेकिन उन्होंने सपना देखा था कि वह अभिनेता बन जाएंगे और आज उनका वह सपना भी पूरा हो चुका उनके इस सफर में उनकी जीवन संगिनी मृदुला ने अहम किरदार निभाया था मृदुला ही वह महिला है जो अपने पति की सफलता की असली हीरो है वही पंकज त्रिपाठी भी अक्सर कई मौके पर अपनी पत्नी के प्रति अपने प्यार का इजहार करते रहते हैं!

पंकज त्रिपाठी और मृदुल की प्रेम कहानी आपको 90 के दशक की किसी भी फिल्म कहानी से कम नहीं लगेगी वहीं एक इंटरव्यू में पंकज त्रिपाठी ने बताया था कि जब वह दसवीं क्लास में थे तब उन्होंने पहली बार मृदुला को देखा था वह छज्जे पर खड़ी थी और पंकज त्रिपाठी नीचे से देख रहे थे जब अचानक दोनों की नजरें मिली इसके बाद दोनों की मुलाकात हुई और पंकज त्रिपाठी ने ठान लिया कि वह मृदुला से ही शादी करेंगे!

वही अपने काम के सिलसिले में बाहर रहा करते थे तो दोनों चिट्ठियां लिख कर एक दूसरे का हालचाल पूछा करते थे एक समय ऐसा आया जब पंकज त्रिपाठी पढ़ाई करने के लिए चले गए उन्हें लगा कि मृदुला की शादी हो गई होगी लेकिन मृदुला ने खुद को शादी से हमेशा बचाए रखा एक बार उनके घर पंकज का फोन आया तो उन्होंने पूरी तरीके से प्यार का इजहार कर दिया और इसके बाद वह जॉब के लिए दिल्ली चली गई ताकि पंकज के साथ समय बिता सकें इसके बाद परिवार ने उनके रिश्ते को स्वीकार कर लिया और दोनों की शादी हो गई!

वही पंकज त्रिपाठी को आना था इसलिए वह अपनी पत्नी को लेकर मुंबई आ गए थे उनका कोई भी फिल्मी बैकग्राउंड नहीं था और ना ही वह अमीर व्यक्ति थे ऐसे में उनको काम ढूंढने के चलते लंबे समय तक बैठना पड़ा था ऐसे में उनकी पत्नी की सैलरी से घर का खर्चा चलता था और वहीं उनकी मेहनत के कारण आज पंकज त्रिपाठी एक बड़े अभिनेता बन पाए हैं!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button