देश

स्वतंत्रता दिवस पर “ये आज़ादी झूठी है” हो रहा है ट्रेंड, लोग बोले- सिर्फ ब्राह्मण हुए आजाद

Social Media Trend ye Azadi Jhuthi hai on Independence Day

Social Media Trend ye Azadi Jhuthi hai on Independence Day: आज जहां एक और स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं वर्षगांठ मनाई जा रही है तो वहीं दूसरी ओर कुछ तथाकथित लोग जो सोशल मीडिया पर “ये आज़ादी झूठी है” ट्रेंड चला रहे है! बहुजन एकता की बातें करते हुए वह खुद को दलितों का ठेकेदार समझने लगे हैं और आजादी को झूठी बता कर स्वतंत्रता सेना नियों का मजाक बना रहे हैं! साथ ही वह इस स्वतंत्रता की रक्षा के लिए हमारे सुरक्षा बलों का भी अप मान कर रहे हैं!

ऐसे में सोशल पर एक यूजर ने लिखा है कि यह आजादी झूठी है देश की जनता भूखी है साथ ही उसने एक पुरानी तस्वीर को शेयर करके मोदी सरकार के ऊपर निशाना साधने की भी कोशिश की!

इस टि्वटर ट्रेंड की आड़ में ब्राह्मणों को भी निशाना बनाया जा रहा है और लिखा है कि 15 अगस्त 1947 को 15% ब्राह्मण आजाद हो गए बाकि जनता गुलाम ही रही! वही एक यूजर ने लिखा कि ब्राह्मण नेहरू पहले प्रधानमंत्री बिना चुनाव के ही बन गए और चुनाव के बाद भी सत्ता पर सिर्फ ब्राह्मण ही काबिज रहे!

वहीं कुछ लोगों ने तो यह भी कहा कि यह तो केवल ट्रांसफर ऑफ़ पॉवर था यह आजादी थोड़ी है! साथ ही यह दावा किया गया कि इसके लिए लंदन में बिल पास हुआ था इसलिए भारत आजाद नहीं है!

वही एक ने लिखा है कि ब्राह्मण तो स्वतंत्र हो गए लेकिन 85% बहुजन समाज गुलाम ही रहा!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button