Breaking News

अफगान शरणार्थी लेने से इनकार, तुर्की ने बनाई ईरान बॉर्डर पर दीवार

जब से तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा किया है, मुस्लिम शरणार्थी वहां से भाग रहे हैं, ऐसे में कोई भी इस्ला मिक देश उन मुस्लिम शरणार्थियों को शरण देने के लिए आगे नहीं आ रहा है। बांग्लादेश ने पहले ही अफगान शरणार्थियों को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है, इसलिए अब तुर्की, जो मुसलमानों का झंडा प्रमुख बन रहा था, 295 किमी लंबी दीवार बना रहा है ताकि अफगान शरणार्थी अपने देश में शरण न ले सकें, अब बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर तुर्की वह अफगान शरणार्थियों को यहां आने से क्यों रोक रहा है,? क्योकि वह तो इजरायल-फिलिस्तीनी यु द्ध के दौरान मुसलमानों का नेता बन रहा था।

तुर्की के रक्षा मंत्री हुलुसी अकार ने कहा कि ईरानी सीमा पर 150 किलोमीटर लंबी ट्रेंच का निर्माण किया गया है। तुर्की ने ईरानी सीमा पर अफगान शरणार्थियों की घुस पैठ को रोकने के लिए नाइट विजन उपकरणों के साथ बड़ी संख्या में निगरानी वाहनों को तैनात किया है। इसे तुर्की का पाखंड कहा जाना चाहिए कि जब इजरायल और हमास के बीच यु द्ध छिड़ गया, तो तुर्की ने गाजा पर इजरायल की कार्रवाई की आलोचना की। तुर्की ने वैश्विक स्तर पर फिलिस्तीनी मुसलमानों के मानवाधिकारों के मुद्दे को उठाया है। लेकिन वही तुर्की अब अपने देश में अफगान शरणार्थियों को प्रवेश करने से रोकने के लिए अपनी सीमा पर दीवार बना रहा है।

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से पश्चिमी देशों की आधुनिकता को पसंद करने वाले अफगानिस्तान के सभी अमीर लोग वहां से पलायन कर रहे हैं, इन सभी के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, लेकिन इसमें 57 इस्ला मिक देश मौजूद हैं। दुनिया। कोई भी देश उन मुसलमानों को पनाह देने के लिए आगे नहीं आ रहा है.

Check Also

VIDEO: जब दोस्तों की शर्तें की वजह से टॉपलेस होकर मैदान में घुस गई महिला, इंटरनेट पर वीडियो ने मचाई सनसनी..

खेल का मैदान एक ऐसी जगह है जहां पर मौज मस्ती की कोई भी लिमिट …

Leave a Reply

Your email address will not be published.