Breaking News

नेहरू पर ट्वीट करने पर रणवीर शौरी मुश्किलों में…

Ranvir Shorey in trouble for tweeting on Nehru: बॉलीवुड के अभिनेता रणवीर शौरी ने हाल ही में जवाहरलाल नेहरू को लेकर एक ट्वीट किया था जिसको लेकर अब मामला बढ़ता जा रहा है! दरअसल अभिनेता को जवाहरलाल नेहरू पर ट्वीट करने के चलते धम की दी जा रही है! मंगलवार को 28 सितंबर को सूरज ठाकुर नाम के एक शख्स से मिले धम की भरे मैसेज का स्क्रीनशॉट उन्होंने ट्विटर पर भी शेयर किया है और अभिनेता का कहना है कि सूरज ठाकुर कांग्रेस एमएलसी भाई जगताप के इशारे पर कार्य करता है और उसने ही मुझ को धम की भरे मैसेज भेजे हैं!

रणवीर शौरी ने कहा, “सूरज ठाकुर ने कहा था कि उन्हें भाई जगताप ने अभिनेता के साथ उनके द्वारा पोस्ट किए गए एक ट्वीट पर चर्चा करने का आदेश दिया था जिसमें उन्होंने गांधी / नेहरू परिवार के खिलाफ अप मान जनक टिप्पणी की थी।” उन्होंने आगे बताया कि ठाकुर ने संदेश में कहा था कि आपके ट्वीट से करोड़ों लोगों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भावनाएं आहत हुई हैं. उन्होंने मुझे पूर्व पीएम के लिए अप मान जनक टिप्पणी करने पर गं भीर परिणाम भुगतने की धम की भी दी थी।

भाई जगताप के कथित गुर्गे ने रणवीर शौरी को तुरंत माफी मांगने और सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से पोस्ट हटाने की धम की दी थी। उन्होंने अभिनेता से ऐसा नहीं करने पर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा।

जिस तस्वीर के लिए शौरी को धम की दी जा रही है, वह मोदी के मीम पर सोशल मीडिया ट्रोलर्स के एक ट्वीट के जवाब में पोस्ट की गई थी। इसने कहा कि भाजपा एक फटे कं डोम से पैदा हुई राजनीतिक पार्टी थी। इसके बाद शौरी ने पूर्व पीएम जवाहरलाल नेहरू की एक तस्वीर साझा करते हुए कहा कि उन्हें कं डोम का इस्तेमाल करना चाहिए था।

शौरी ने आगे कहा कि वह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अपने अधिकार को बरकरार रखेंगे और धम कियों से नहीं ड रेंगे। शौरी ने कहा था, ‘मैं आपको बता दूं कि मैं कांग्रेस पार्टी का समर्थक नहीं हूं। मैं भारतीय संविधान के तहत मुझे दी गई अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अपने अधिकार को बरकरार रखूंगा और किसी से नहीं ड रूंगा।”

Check Also

Pepsi, Coco Cola और नेस्ले की दादागिरी निकालने के लिए मुकेश अंबानी ने कसी कमर,करने जा रहे है ये काम।

भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी अब कंज्यूमर गुड्स सेक्टर में विदेशी कंपनियों को टक्कर देने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published.