Breaking News

UP चुनाव को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा बयान

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ कई महीनों से विरोध कर रहे किसान नेता राकेश टिकैत ने बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. सिरसा में टिकैत ने कहा कि बीजेपी से खतर नाक कोई पार्टी नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने बयान देते हुए कहा कि यूपी में चुनाव से पहले एक बड़े हिंदू नेता की ह त्या की जा सकती है.

किसान सम्मेलन में हिस्सा लेने हरियाणा के सिरसा पहुंचे भारतीय किसान संघ के नेता राकेश टिकैत ने भाजपा सरकार पर बड़ा आ रोप लगाया है. टिकैत ने कहा कि यूपी चुनाव से पहले एक बड़े हिंदू नेता की ह त्या कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि वे उनसे दूर रहना चाहते हैं और किसी बड़े हिंदू नेता को मा रकर देश में हिंदू-मुसलमान का धर्म परि वर्तन कर चुनाव जीतना चाहते हैं.

किसान नेता टिकैत ने कहा कि बीजेपी से ज्यादा खतर नाक कोई दूसरी पार्टी नहीं है, आज जिन नेताओं ने बीजेपी बनाई थी, वे भी घर में कैद हैं. टिकैत ने कहा कि देश पर “सरकार तालिबान” का कब्जा है। उन्होंने आ रोप लगाया कि किसानों पर ला ठियों का इस्तेमाल करने वाले एसडीएम के चाचा का आरएसएस में बड़ा स्थान है। इन सरकारी तालिबानियों का पहला कमांडर करनाल में मिला है। अगर वे हमें खालिस्तानी कहेंगे तो हम उन्हें तालिबानी कहेंगे।

सरकार की नीतियों पर उठे सवाल

राकेश टिकैत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से कहा गया था कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ और न ही फसल दोगुने रेट पर बिकी। इसके अलावा टिकैत ने सरकारी नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश की बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ हो जाता है और फिर वही कंपनियां सरकारी संस्थानों को खरीद लेती हैं.

टिकैत ने कहा कि अगर कोई किसान कर्ज लेकर भुगतान नहीं कर पाता है तो उसके घर और जमीन की नीलामी कर दी जाती है. कर्ज दस लाख का भी हो तो भी 50 लाख की किसान की जमीन बिक जाती है, ये कैसा कानून है। टिकैत ने कहा कि जहां ये नीतियां बनती हैं, वहां कोई ट्रैक्टर या हल चलाने वाला नहीं है।

Check Also

Google ने दिया भारत की जनता को बड़ा तोहफ़ा, सबसे प्राचीन भाषा संस्कृत समेत भोजपुरी, और मैथली भाषा को गूगल ट्रांसलेट में शामिल किया।

जैसा की आप सबको मालूम है संस्कृत हमारी सभ्यता की सबसे पुरानी भाषा है और …

Leave a Reply

Your email address will not be published.