Breaking News

अब कवर्धा के पंडालों में भगवा लगा रहे मुस्लिम, 1000 के खिलाफ FIR दर्ज: पूर्व CM रमन सिंह भी पहुँचे

अभी हाल ही में कवर्धा को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई थी जहां पर भगवे झंडे को उतार दिया गया था! लेकिन अब यह मामला तूल पकड़ता जा रहा है शहर में पिछले एक हफ्ते में तनाव का माहौल बना हुआ है! शनिवार को चार घंटे दुकानें खुली, वही इंटरनेट सेवाएं बहाल हो गई है मुस्लिम समुदाय के लोग दुर्गा पूजा पंडाल में पहुंच रहे हैं तो इधर मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी कवर्धा पहुंचे हैं!

जानकारी के अनुसार मुस्लिमों ने शहर के सबसे पुराने दुर्गा पूजा पंडाल में पहुंच कर भगवा झंडे लगाए और तोरण बांधा! झंडे के कारण ही शहर के अंदर हिं सा हुई थी! धारा 144 लगे होने के बावजूद भी हिंदुओं का आ क्रोश नहीं कम हो रहा क्योंकि उनका आ रोप है कि पुलिस ने भी उल्टा हिंदू युवकों की ही पि टाई की है ऐसे में हिंदू संगठनों ने रैलियों की, और विरोध प्रद र्शन हुआ, कर्फ्यू लगाना पड़ा था!

यहां तक ​​कि राजनांदगांव और बेमेतरा तक इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गईं। पंडरिया नगर क्षेत्र में पुराने बस स्टैंड स्थित दुर्गा पूजा पंडाल श्री पुष्पांजलि दुर्गा उत्सव समिति में मुस्लिमों ने पहुंच कर हिंदुओं को नवरात्रि की बधाई दी. उसके साथ बच्चे भी थे। कुछ सिख समुदाय के लोग भी वहां जमा हो गए। कवर्धा की सीमाओं को सील कर दिया गया है और बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है और प्रत्येक इलाके में 9-9 लोगों की शांति समिति बनाई गई है।

छत्तीसगढ़ पुलिस ने अशांति फैलाने के आ रोप में कुल 1000 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. इसमें 171 लोगों की पहचान की गई है और 93 को गिर फ्तार भी किया गया है। पुलिस ने सोशल मीडिया से कुछ वीडियो भी हटा दिए हैं। इसके साथ ही लोगों से डिजिटल फैक्ट्स मांगे गए हैं। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। सत्ताधारी कांग्रेस के नेता इसे बीजेपी की सा जिश बता रहे हैं. हालांकि, मंत्री रवींद्र चौबे ने शुरू में प्रशासनिक चूक को स्वीकार किया है।

वहीं बीजेपी नेता और 15 साल तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह कवर्धा पहुंचे और लोगों से मिले. उन्होंने कहा कि ‘शांति का द्वीप’ कहे जाने वाले इलाके में बहु संख्यक समाज के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई हुई है. वह इस हिं सा में घा यल और जे ल में बंद लोगों से मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा कि सीएम इस स्थिति में यूपी में प्रचार कर रहे हैं। रमन सिंह ने घट ना की न्यायिक जांच की मांग की।

Check Also

Google ने दिया भारत की जनता को बड़ा तोहफ़ा, सबसे प्राचीन भाषा संस्कृत समेत भोजपुरी, और मैथली भाषा को गूगल ट्रांसलेट में शामिल किया।

जैसा की आप सबको मालूम है संस्कृत हमारी सभ्यता की सबसे पुरानी भाषा है और …

Leave a Reply

Your email address will not be published.