देशविदेश

जाए तो जाए कहां, जेएनयू के अफगान छात्र फस गए, अपने देश लौट नहीं सकते और भारत में आ रही है यह समस्या

JNU's Afghan students visa is about to expire

भारत में रह रहे अफगानिस्तान के नागरिक इस समय एक अजीब ही स्थिति में फंस चुके हैं कुछ का वीजा खत्म होने वाला है तो कोई अफगानिस्तान में रह रहे अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं सब यह समझते हैं कि काबुल पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां उनका भविष्य सुरक्षित ही नहीं रह गया है और वह वहां जाकर भी नहीं लौट सकते हैं ऐसे अफगानी नागरिकों में जवाहरलाल यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले छात्र भी हैं उनको उम्मीद है कि उनके हालातों को देखते हुए यदि उनका वीजा अवधि बढ़ा दी जाए तो उनके लिए फिलहाल कोई रास्ता निकल सकता है लेकिन परेशानी उस समय पैदा होगी यदि उनका पासपोर्ट भी लेप्स कर जाएगा!

दिल्ली के जेएनयू में कम से कम 22 अफगानी छात्र अपने देश वापस नहीं लौटना चाह रहे हैं और वह अपने कोर्स के जरिए वीजा की मियाद बढ़वाना ड़वाना चाह रहे हैं इन अफ़गानिस्तान छात्राओं को चिंता यह है कि कुछ ही महीनों में उनका वीजा एस्पायर करने वाला है इनमें से ज्यादातर वीजा दिसंबर के महीने में ही खत्म हो रहा है!

लेकिन सूत्रों के अनुसार तालिबान के काबुल पहुंचने की वजह से वहां की जो स्थिति बनी हुई है उसके चलते लौटने की किसी की भी हिम्मत नहीं हो पा रही है! इसलिए पीएचडी जैसे कोर्ट के जरिए यह चाहते हैं कि इनका वीजा बढ़ा दिया जाए जेएनयू के छात्र का कहना है कि अफगानिस्तान जैसे यु द्ध ग्रस्त देश में ज्यादातर लोग पूरी तरीके से बेरोजगार हैं और वहां से भागने की कोशिश कर रहे हैं!

स्टूडेंट के सामने समस्या यह है कि उन्हें 23 सितंबर तक हॉस्टल खाली करने पड़ेंगे और पैसों की तंगी के चलते वह कैंपस के बाहर रहने को लेकर अनिश्चित है! जलालुद्दीन नाम के 1 छात्रों का कहना है कि वहां के हालात बेहद ही ज्यादा खराब है मुझे उम्मीद है कि प्रशासन हमारी हालत को समझेगा और मेरा वीजा पर मिटा देना यही नहीं बल्कि विदेश छात्रों के लिए जेएनयू से पीएचडी करना भी काफी महंगा है और गरीब परिवारों के लिए निश्चित ही कोई रास्ता नहीं है! वैसे मुझे इस समय सही नहीं मालूम कि क्या करना है!

अगर स्टूडेंट का वीजा खत्म हो जाता है तो कोई नए परमिट मिलने तक ना तो कोई काम कर सकता है और ना ही कोई पढ़ाई कर सकता है यही नहीं बल्कि यह भी इस पर निर्भर है कि पासपोर्ट की मियाद ना खत्म हो जाए क्योंकि स्टडी परमिट भी पासपोर्ट की अवधि खत्म होने के बाद नहीं बनाई जा सकती!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button