Breaking News

जामिया के आसिफ इकबाल तन्हा ने तालिबानी हुकूमत के लिए ‘अल्लाह का शुक्रिया’ किया।

एक तरफ भारत अपने 75 वे स्वतंत्रता दिवस पर जश्न मना रहा था तो वहीं दूसरी ओर जामिया का छात्र आसिफ इकबाल अफगानिस्तान में तालिबानी शासन का खुलकर समर्थन कर रहा था! अपने साथियों से चर्चा करते हुए रविवार को उसने कहा कि मैं एक अच्छी खबर देना चाहता हूं, अशरफ गनी ने इस्तीफा दे दिया है! अल्लाह का शुक्रिया कि धीरे-धीरे ही सही लेकिन इस्लामिक एमिरेट ऑफ अफगानिस्तान यानी कि तालिबान का शासन स्थापित हो गया है हमें इस से प्रेरणा लेने और सीखने की जरूरत है कि कैसे आजादी के आंदो लन के लिए संघर्ष किया जाता है! वही इसमें इस बात पर भी चर्चा हो रही थी कि क्या भारत में मुस्लिम आजाद है?

वही इस ट्विटर स्पेस में शामिल रहे मोहम्मद तनवीर के ट्वीट से इस बात की पुष्टि हो जाती है कि चर्चा में दिल्ली दं गे का आ रोपी इकबाल मौजूद था वीडियो में यह मालूम चलता है कि बाकी सदस्यों के माइक्रोफोन ऑफ और तालिबान की तारीफ करते और अल्लाह का शुक्रिया करते हैं आसिफ इकबाल को सुना गया!

इकबाल आजादी पाने के लिए तालिबान से प्रेरणा लेना चाहता है और संभवत यह वही जिन्ना वाली आजादी है जिसके स्लोगन का उपयोग नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के दौरान किया गया था! दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को दिए गए अपने बयान में इकबाल ने कबूल किया था कि वह भारत को इस्लामिक देश बनाना चाहता है! वही आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फरवरी 2020 में पूर्वोत्तर दिल्ली में हुए दं गों के साजि शकर्ता के रूप में इकबाल को यूएपीए के अंतर्गत हिरासत में लिया गया था!

Check Also

बड़ी खबर : महंगे टमाटर और प्याज ने बिगाड़ा किचन का बजट, जानिए टमाटर और प्याज के ताजा रेट

महंगाई की मार कम होने का नाम नहीं ले रही है। सब्जियों और दाल से …

Leave a Reply

Your email address will not be published.