Breaking News

महिला किसान नेता का दावा, वीडियो शेयर कर कही ये बात

हाल ही में भारत के केंद्र सरकार के द्वारा किसानों की स्थिति के सुधार के लिए कुछ कानून लेकर आए गए थे लेकिन जब यह कानून जमीन पर उतरे तो कुछ तथाकथित किसानों को सरकार के इन कानूनों से दिक्कतें होने लग गई और जिसके चलते दिल्ली पर जाकर बैठ गए! जभी से यह दौर शुरू हुआ और किसान इसको लेकर पंचायत महापंचायत पता नहीं क्या क्या करने लगे! और अभी हाल ही में मुजफ्फरनगर के अंदर भी किसान महापंचायत किसानों के द्वारा की गई है लेकिन यह महापंचायत जब से अभी तक सुर्खियों में बना हुआ है!

अब इस महापंचायत में जो कुछ हुआ उसकी धीरे धीरे से परतें खुलती जा रही है! दरअसल हाल ही में भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत सहित अन्य ने मुजफ्फरनगर में बीजेपी के खिलाफ रैली आयोजित की थी जहां से अल्लाह हू अकबर का नारा भी दिया गया था वहां पर पूनम पंडित जो कि पहले सपना चौधरी की बाउंसर हुआ करती थी उनको मंच पर चढ़ने से रोक दिया गया! इसके बाद कई मीडिया संस्थानों से बात करते हुए पूनम पंडित ने कुछ आ रोप लगाए हैं! कभी हरियाणा के करनाल में नौकरी करने वाली पूनम पंडित का कहना है कि कृषि कानूनों की बारीकियों को समझने के बाद वह किसान आंदो लन से जुड़ी थी!

वहीं उन्होंने ऐसे में कुछ लोगों पर किसान आंदो लन को बद नाम करने का आ रोप लगाया और साथ ही कहा है कि यही कारण है कि मुजफ्फरनगर में उनके साथ बदत मीजी की गई थी! इस मामले में पूनम पंडित ने बताया है कि एक लड़के ने मुझे कोली भर के अर्थात कमर में हाथ डाल कर नीचे खींच लिया जिसके बाद मुझे मंच पर चढ़ने से रोक दिया गया उसने धम काया कि मैं किसी भी हालत में तुम्हें मंच पर नहीं जाने दूंगा, मेरे साथ धक्का-मुक्की भी की, मैं पसीने में तरबतर हो गई और मेरी तबीयत भी खराब हो गई थी मैं कुछ समझ ही नहीं पा रही थी कि मेरे साथ यह क्या किया जा रहा है?

वही पूनम पंडित ने दावा किया है कि खुद भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने उनको महापंचायत में आमंत्रित किया था बाद में राकेश टिकैत ने उन्हें मंच पर भी जगा दी थी आखिरी दम तक किसान आंदो लन से जुड़ी रहने की बात करते हुए पूनम पांडे ने बताया कि वह अभी 25 साल की है और उन्होंने हाल ही में अपनी छोटी बहन की शादी की है उनके पिता अब दुनिया में नहीं रहे और मां ने ही बच्चों की परवरिश की है!

वही पंडित का कहना है कि कई लोग उनको पसंद नहीं करते और उनके साथ पहले से ही दूर व्यवहार हो चुका है टिकरी सीमा पर चल रहे विरोध में भी उनको रोका गया था करनाल में किसानों पर हुए मामले पर आ रोप लगाकर आंदो लन में भी वह सक्रिय रही थी! हरियाणा को अपने घर जैसा बताने वाली पूनम पंडित का कहना है कि कुछ लोगों की नफरत की वजह से वह हार नहीं मान सकती!

Check Also

Pepsi, Coco Cola और नेस्ले की दादागिरी निकालने के लिए मुकेश अंबानी ने कसी कमर,करने जा रहे है ये काम।

भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी अब कंज्यूमर गुड्स सेक्टर में विदेशी कंपनियों को टक्कर देने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published.