Breaking News

चारधाम यात्रा करने वालो के लिए बुरी खबर दर्शन करना हो गया महंगा,जाने कितने रु ज्यादा देने पड़ेंगे इस बार।

चारधाम यात्रा पर जाने वाले तीर्थयात्रियों को अब भगवान के दर्शन के लिए अतिरिक्त 600 रुपये देने होंगे। उत्तराखंड परिवहन महासंघ से जुड़ी सभी यूनियनों ने बसों के किराए में 20 फीसदी की बढ़ोतरी की है। ऋषिकेश से बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री तक प्रत्येक यात्री से अब 3,250 रुपये की जगह 3,850 रुपये वसूले जा रहे हैं। पिछली बार की तुलना में अब किराए में 600 रुपये प्रति सीट की बढ़ोतरी की गई है। राज्य परिवहन प्राधिकरण द्वारा किराए में बढ़ोतरी से पहले ही उत्तराखंड परिवहन महासंघ ने किराया बढ़ा दिया है।

महासंघ का तर्क है कि पिछले दो वर्षों में पेट्रोकेमिकल्स की कीमतों में 30 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। ऐसे में पुरानी दरों पर चारधाम यात्रा का संचालन संभव नहीं है। फेडरेशन के अध्यक्ष सुधीर राय का कहना है कि फिलहाल यात्रा पर जाने वाले तीर्थयात्रियों से प्रति यात्री 3,850 रुपये किराया लिया जा रहा है. राय का कहना है कि किराया बढ़ाने का फैसला सर्वसम्मति से लिया गया है. चारधाम यात्रा के लिए उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों, टैक्सी, कैब, सिटी बसों के साथ ही ट्रैक्टर, लोडर का किराया बढ़ाने का प्रस्ताव राज्य परिवहन प्राधिकरण के स्तर पर लंबित है. सरकार, सरकार और परिवहन मुख्यालय के निर्देश पर गठित किराया निर्धारण समिति ने प्राधिकरण को रिपोर्ट सौंप दी है. किराया बढ़ाने का फैसला प्राधिकरण की बैठक में लिया जाना है, लेकिन यात्रा से पहले प्राधिकरण की बैठक नहीं हो सकी, जबकि उत्तराखंड परिवहन महासंघ ने यात्रा शुरू होने से पहले किराया बढ़ाने का प्रस्ताव पारित करने का अनुरोध किया था.

टैक्सी का किराया 15,000 रुपये बढ़ा

उत्तराखंड परिवहन महासंघ के बाद टैक्सी संचालकों ने भी किराया बढ़ा दिया है। अब इनोवा वाहन के लिए प्रतिदिन साढ़े चार हजार की जगह छह हजार रुपए वसूले जा रहे हैं। अगर किसी परिवार को इनोवा से चारधाम का सफर करना है तो 10 दिन के लिए 45 हजार रुपए की जगह 60 हजार रुपए देने होंगे। टैक्सी किराए में बढ़ोतरी पर दून ट्रैवल्स ऑनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष योगेश अग्रवाल का कहना है कि चूंकि पेट्रोकेमिकल्स की कीमत में 30 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है, इसलिए पहले से तय किराये की दरों पर यात्रा करना संभव नहीं है.

श्रद्धालुओं की संख्या ने पहले दिन बनाया नया कीर्तिमान, 23512 श्रद्धालुओं ने किया दर्शन

भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने पर श्रद्धा के प्रवाह ने चारधाम यात्रा के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया है। कोरोना के चलते दो साल से कपाट खुलने के मौके पर जो सन्नाटा था, वह भक्तों के जयकारों से टूट गया। कपाट खुलने के पहले दिन शाम चार बजे तक केदारनाथ धाम में 23 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने दर्शन किए. यह पहले दिन भक्तों की संख्या का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। मंदिर परिसर में यात्रियों ने सेना बैंड की धुनों, ढोल और तमाशा की थाप पर नृत्य किया।

सुबह 4 बजे तक केदारनाथ मंदिर परिसर का एक हिस्सा भक्तों से पूरी तरह भर गया। मंदिर मार्ग पर जीएमवीएन तक श्रद्धालुओं की कतार लगी रही। हिमालय से आ रही बर्फीली हवा के बीच जैसे जैसे कपाट खुलने का समय नजदीक आया श्रद्धालुओं का उत्साह और भी बढ़ गया। इस दौरान बम-बम भोले के जयकारों से केदारपुरी गूंजता रहा। शुभ मुहूर्त में प्रातः 6:25 बजे कपाट खुलने के बाद बाबा के दर्शन के लिए भक्तों का उत्साह बढ़ता ही जा रहा था. शाम 4 बजे तक केदारनाथ में 23,512 श्रद्धालु केदारनाथ के दर्शन कर चुके थे। इससे पहले 2019 में पहले दिन नौ हजार श्रद्धालुओं ने दर्शन किए थे.

यात्रा मार्ग पर रात 10 बजे तक चल सकेंगे वाहन

चारधाम यात्रा के दौरान यात्रियों के वाहन रात 10 बजे तक पहाड़ पर चल सकेंगे. डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि तीर्थयात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए यह व्यवस्था की गई है। गोपेश्वर में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि पुलिस का फोकस चारधाम यात्रा के दौरान भीड़ प्रबंधन, यातायात व्यवस्था और आपदा प्रबंधन पर रहेगा. बद्रीनाथ हाईवे पर डेंजर जोन के दोनों ओर पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। डीजीपी ने कहा कि प्रदेश में यातायात नियंत्रण, महिला सुरक्षा, नशा बंदी और साइबर अप राध पर प्रभावी नियंत्रण के लिए अभियान चलाया जा रहा है. इस मौके पर पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बद्रीनाथ यात्रा में सुरक्षा व्यवस्था के बारे में डीजीपी को बताया.

अतिथि देवो भव की भावना से करें कर्तव्य : एसपी

एसपी चमोली श्वेता चौबे ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए थाना व चौकी के प्रभारियों को यात्रा मार्ग की जानकारी दी। एसपी ने कहा कि सभी पुलिसकर्मी अतिथि देवो भव की भावना से ड्यूटी करें. यात्रियों के साथ सौहार्दपूर्ण व्यवहार किया जाना चाहिए। एसपी ने सभी थानों और चौकियों से उनकी तैयारियों और समस्याओं के बारे में पूछा. साथ ही यात्रा को सुचारू और व्यवस्थित बनाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

Check Also

बड़ी खबर : महंगे टमाटर और प्याज ने बिगाड़ा किचन का बजट, जानिए टमाटर और प्याज के ताजा रेट

महंगाई की मार कम होने का नाम नहीं ले रही है। सब्जियों और दाल से …

Leave a Reply

Your email address will not be published.