बॉलीवुड

बॉलीवुड फ़िल्म इंडस्ट्री में अभिषेक बच्चन ने इस तरह गुज़ारे 21 साल, सुनाई आपबीती

Abhishek Bachchan spent 21 years like this in Bollywood film industry, narrated his ordeal

हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन आज किसी पहचान के मोहताज नहीं। भजन सावन फिल्म इंडस्ट्री में अपना ऐसा लोहा मनवा चुके हैं कि आज हर कोई उनके साथ काम करना चाहता है। बड़े बड़े अभिनेता अमिताभ बच्चन की इज्जत किया करते हैं। वही उनके बेटे अभिषेक ने हालांकि अपने करियर के शुरुआती दिनों में अपने पिता के लिए पहचान नहीं बना पाए लेकिन हाल ही में अभिषेक बच्चन की फिल्म बाब विश्वास आई है इस फिल्म को लेकर लाखों लोग अभिषेक बच्चन की तारीफ कर रहे हैं।

लाखों लोग नहीं बल्कि उनके पिता अभिषेक बच्चन भी अपने बेटे की तारीफ करते हुए नजर आए हैं। अमिताभ बच्चन ने इसके अलावा बातचीत के दौरान इस बात का भी जिक्र किया है कि उनके बेटे अभिषेक ने भी बॉलीवुड में अपनी 21 साल की जर्नी में कितनी मुश्किलों का सामना किया है।

सभी को पता है कि बॉलीवुड में अपना नाम बनाने के लिए कलाकारों को कितने संघर्षों का सामना करना पड़ता है लेकिन मुश्किलें कम हो जाती है जब वह किसी बॉलीवुड एक्टर या फिर बॉलीवुड की अभिनेता के घर से बिलॉन्ग करते हैं। लेकिन अभिषेक बच्चन इतने बड़े फैमिली से मिलान करने के बावजूद उन्हें इस फिल्म इंडस्ट्री में काफी संघर्ष करना पड़ा।

हाल ही में अभिषेक बच्चन एक बातचीत के दौरान इस बात का खुलासा किया है कि बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के बेटे होने के बावजूद उन्हें फिल्म जगत में अपनी पहचान बनाने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। अभिषेक बच्चन ने रोलिंग स्टोन इंडिया के साथ हुई बातचीत में इस बात का जिक्र किया है कि उन्होंने लगभग 21 साल की अपनी बॉलीवुड लिखनी है काफी परेशानियों और उतार-चढ़ाव भरे दिनों को देखा है।

अगर बात करें अभिषेक बच्चन की एक्टिंग करियर की तो उन्होंने साल 2000 में आई फिल्म रिफ्यूजी के जरिए हिंदी फिल्म जगत में अपना डेब्यू किया था। अपनी पहली फिल्म में अभिषेक बच्चन के ऑपोजिट करीना कपूर नजर आई थी।

अभिषेक बच्चन ने बताया कि उन्हें इस फिल्म को हासिल करने के लिए लगभग 2 साल लग गए थे। अभिषेक बच्चन ने यह भी बताया कि उनके बारे में कई लोग ऐसा सोचते थे कि अमिताभ बच्चन का बेटा होने की वजह से उनके सामने लोग 24 घंटे लाइन में लगे रहते होंगे पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं। उन्होंने बताया कि अपने शुरुआती दिनों में अभिषेक कई डायरेक्टर के पास गए थे और उनसे बात की थी जिनमें से कई डायरेक्टर्स ने उन्हें काम देने से मना कर दिया था।

अभिषेक बच्चन ने बताया कि ग्रामर की दुनिया में उन्होंने अच्छी साइड और बेरोजगारी वाली साइड दोनों ही देखी है। उन्होंने कहा कि बॉलीवुड के अंदर असली मुद्दा यह है कि आप किसी चीज को पर्सनली नहीं ले सकते। अभिषेक के अनुसार फिल्म इंडस्ट्रीज एक बिज़नेस है।

जहां पर आप की एक फिल्म अच्छा बिजनेस नहीं करती तो मैं लड़कियों को इधर है तेरा वो दूसरी सिम देंगे आपके पीछे पैसा लगाएंगे आगे नेपोटिज्म के बारे में बात करते हुए अभिषेक बच्चन ने बताया कि यह जो नेपोटिज्म को लेकर बातें और चर्चाएं होती है वह बहुत ही सुविधा अनुसार है और वह कुछ चीजों को भूल ही चुके हैं। उन्होंने बताया कि काफी मेहनत लगती है और इन 21 सालों में बहुत बार उनका दिल टूटा है और उन्हें अंदर से दर्द महसूस हुआ है जो उनके लिए बिल्कुल भी आसान नहीं रहा।

वहीं अमिताभ बच्चन भी अपने बेटे अभिषेक बच्चन के बारे में बात करते हुए कहा कि कोई किसी भी चीज को बिना स्ट्रगल की हासिल नहीं कर सकता और उन्हें अपने बेटे के स्ट्रगल पर गर्व है। आगे महानायक ने कहा कि अभिषेक की अचीवमेंट पर वह बहुत खुश हैं और ऐसी आशा करते हैं कि दादाजी की शब्द और उनकी दुआएं हमेशा उनकी और आने वाली पीढ़ी के साथ रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button